Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

सुप्रसिद्ध ओडिया संगीत निदेशक शांतनु महापात्र का निधन

- sponsored -

भुवनेश्वर : ओडिया के ख्याति लब्ध संगीत निदेशक शांतनु महापात्र का मंगलवार देर रात यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 84 वर्ष के थे।पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि श्री महापात्र को निमोनिया हो गया था जिसके इलाज के लिए दो दिन पहले उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था , जहां कल देर रात उनका निधन हो गया।मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने श्री महापात्र के निधन पर शोक व्यक्त किया है। श्री पटनायक ने अपने शोक संदेश में परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। उन्होंने कहा, श्री महापात्र ने अपना पूरा जीवन संगीत को समर्पित कर दिया था। उनके निधन से ओडिशा ने एक महान सपूत खो दिया।संगीत के क्षेत्र में उनका योगदान उन्हें लाखों संगीत प्रेमियों के दिलों में जिन्दा रखेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री महापात्र का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जायेगा।केन्द्रीय पेट्रोल और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी श्री महापात्र के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।मयूरभंजन जिले के बारीपदा में नवंबर 1936 में जन्में श्री महापात्र ने आईआईटी खड़गपुर से एप्लाइड जियोलॉजी और जियोफिजिक्स में बीएससी किया था। एक भूविज्ञानी के रूप में उन्होंने राज्य सरकार में अपनी सेवाएं शुरु की और वर्ष 1994 में वह मांिनग एडं जियोलॉजी विभाग के निदेशक के पद से सेवामुक्त हुए थे।श्री महापात्र पांच भाषाओं- ओडिया ,हिन्दी ,बंगाली ,असमिया और तेलुगु में काम करने वाले पहले ओडिया संगीत निदेशक थे।

 

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -