Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

संवेदक की लापरवाही आमजनों की बनी परेशानी

- sponsored -

वर्षो से अधर में लटका, पाखर-सांगोडीह पीएमजी सड़क निर्माण

किस्को (लोहरदगा): जिले के किस्को प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत धुर्वा मोड़ चौक से पाखर होते हुए सांगोडीह तक प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत निर्माणाधीन सड़क आमजनों के लिए खतरे का डगर बन गया है। संवेदक की लापरवाही से पाखर उत्खनन माईंस से रिचुघुटा को चलने वाली करीब दो सौ बॉक्साइट ट्रक एवं पाखर से लोहरदगा को चलने वाली 160 ट्रकों का परिचालन प्रतिदिन होती है जो क्षेत्र के लोगों को उड़ते धूल से कई तरह की बीमारियों का घर कर रहा है। बावजूद संवेदक सड़क निर्माण कार्य को कछुए की चाल में करा रही है। जिससे लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। सड़क निर्माण कार्य करा रहे ओम साईं मंगलमूर्ति प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के संवेदक की उदासीन रवैया से सड़क का निर्माण कार्य प्रगति पर नहीं है। इधर सड़क निर्माण कार्य में लापरवाही के अलावा गुणवत्ता का भी ख्याल नहीं रखा जा रहा है। यही वजह है कि जहां पर थोड़ी बहुत काम किया गया है। उक्त स्थल पर सड़क बनते ही दम तोड़ने लगा है। धुर्वा मोड़ से सांगोडीह तक बनाई जा रही सड़क में रूक रूक कर काम कराए जाने से ट्रक चालकों एवं राहगीरों में हर वक्त मौत का डर बना रहता है लेकिन संवेदक की कान में जूं तक रेंग नहीं रहा है यही वजह है कि वर्षो बीत जाने के बाद भी उक्त सड़क आज भी अधर में पड़ा हुआ है।बता दें कि उक्त सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हो पाने से आम जनता और ट्रक चालकों को गंभीर अंजाम झेलना पड़ रहा है। संवेदक की सूस्तीपन रवैया से बनाई जा रही सड़क में गाड़ी तो किया पैदल चलना मुहाल हो गया है। इधर ट्रक चालकों एवं क्षेत्र के लोगों का कहना है कि इस रोड़ में गाड़ी चलाना एवं पैदल चलना यानी अपना जान को गंवाना बराबर है। सड़क की उबड़ खाबड़ स्थिति में चालक अपनी जान हथेली में रखकर चलते हैं। उक्त सड़क में पूर्व में भी बड़ी-बड़ी घटना हो चुका है। कई लोग अपना जान गंवा बैठे हैं सड़क की रवैया आगे यदि यही रहा तो कभी भी बड़ी घटना हो सकता है। ज्ञात हो कि घाटी पर लिखी होती है कि गति धीमा कर चलें घर में बच्चे इंतजार कर रहे हैं। सड़क की हालत देखकर लगता है कि बच्चे इंतजार करते ही ना रह जाए संवेदक ओम साईं मंगल मूर्ति द्वारा बनाई जा रही सड़क इन दिनों हाथी का दांत साबित हो रहा है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored