Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

नशा कारोबार पर मनातू में पुलिस की बड़ी कार्रवाई,अफीम की खेती करनेवाले 27 गिरफ्तार

- Sponsored -

आरोपियों में स्थानीय जनप्रतिनिधि भी शामिल
वाहन खेत तक नहीं पहुंचे इसलिए रास्ते में फेंक देते थे कील
मनातू/पलामू: थाना पुलिस ने अफीम की खेती करनेवालों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए थाना क्षेत्र के छोटकी नागद, बड़की नागद, डुमरी और सिकदा से 27 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों में जितेंद्र सिंह, सुरेंद्र सिंह, विश्वनाथ भूइयां, गोपाल सिंह, ललन भूइयां, महेंद्र सिंह, रमेश सिंह, बसंत सिंह, रामलाल सिंह, अरविंद सिंह, प्यारी भुइयां, प्रसाद यादव अखिलेश यादव, रविंद्र सिंह विशेष मिस्त्री, बरजू मिस्त्री, संयोग भूइयां, अशोक सिंह, नवल सिंह, मनोज सिंह, लालधारी सिंह, वासुदेव सिंह, बुधन भुइयां, योगेंद्र सिंह, अजीत सिंह, रामजतन यादव और बाबूलाल यादव शामिल है। इन आरोपियों में कई पंचायतस्तरीय जनप्रतिनिधि भी हैं। गिरफ्तार लोगों पर पहले से ही पोस्ता की खेती करने का आरोप है और उनपर मनातू थाना में मामला भी दर्ज है। गिरफ्तार आरोपियों का आज मेदिनीनगर स्थित एमआरएमसीएच में कोविड टेस्ट कराया गया। रिपोर्ट आने के बाद पुलिस उन्हे जेल भेजे जाने की कार्रवाई करेगी। पूरी कार्रवाई पलामू एसपी संजीव कुमार के दिशा-निर्देशन व लेस्लीगंज एसडीपीओ अनुप कुमार बड़ाईक एवं थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह के नेतृत्व में किया गया। मनातू थाना प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि सूचना मिलने के बाद गांव में छापामारी की गई। इसके लिये काफी सावधानी बरतनी पड़ी। पुलिस गाड़ी अफीम के खेतों तक नहीं पहुंच सके, इसके लिए आरोपी रास्ते में कील फेंक दिया करते थे। हालांकि, इस बार उनकी यह चालाकी काम नहीं आई। उन्होंने बताया कि पूछताछ में ग्रामीणों ने बताया है कि पहले भी गांव में अफीम की खेती की जाती रही है। इस वर्ष भी ग्रामीण पोस्ता की खेती में लगे हुए हैं। पुलिस हर साल पोस्ता को नष्ट करती है व खेती करनेवालों पर एफआईआर करती है। इसके बाद भी यह धंधा बदस्तूर जारी रहता है। उन्होंने बताया कि जिन गांवों में छापमारी की गई वे सभी गांव मनातू थाना से 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। उन्होंने यह भी बताया कि पुलिस ने सिकनी, नागद व बेटापाथर गांव में दस एकड़ से ज्यादा क्षेत्र में लगे पोस्ता के पौधों को नष्ट किया है। इससे पहले पुलिस ने अभियान चलाकर मनातू थाना क्षेत्र के नागद में 10 एकड़ में लगी पोस्ता की फसल को नष्ट किया था।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored